काला फीता बाधकर विरोध दर्ज करायेगें नगर निगम कर्मी
imgmain

 नगर निगम कर्मचारी संघ लखनऊ द्वारा पूर्व घोशित आन्दोलन के नवें चरण के क्रम में 17 मार्च 2017 को नगर निगम लखनऊ का कर्मचारी, नगर निगम प्रषासन, उत्तर प्रदेष षासन द्वारा अब तक मॉगों पर सकारात्मक निर्णय न किए जाने के कारण काला फीता बॉधकर काला दिवस के रूप में मनाएगा।

संघ के अध्यक्ष आनंद वर्मा एवं महामंत्राी राम अचल द्वारा उत्तर प्रदेष षासन एवं नगर निगम प्रषासन पर कर्मचारियों की मांॅगों के प्रति  लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य वित्त आयोग से मिलने वाली धनराषि से की गई कटौती को तत्काल अवमुक्त किये जाने तथा भविश्य में भी राज्य वित्त आयोग की धनराषि से कटौती न किये जाने, षासनादेष के अनुसार दिनांक 31 दिसम्बर 2001 तक संविदा पर कार्यरत कर्मचारियों का विनियमितीकरण किया जाए। पूर्व में संविदा पर कार्यरत कर्मचारियों को भी सम्मिलित कर विनियमतीकरण किये जाने,  अस्थाई/ धारा 108 के अन्तर्गत 15-20 वर्श से पूर्व नियुक्त कर्मचारियों का विनियमितीकरण किये जाने, कार्यदायी संस्था एवं नगर निगम द्वार सीधे योजित संविदा कर्मचारियों को ईपीएफ एवं ईएसआई की सुविधा प्रदान किये जाने, कर्मचारियों को जलकल , सीवरकर एवं गृह कर से मुक्त किये जाने की मांग पर अब तक निर्णय न किये जाने के कारण कर्मचारियों में व्यापक रोश व्याप्त है। नगर निगम कर्मचारी संघ की बैठक में निर्णय लिया गया कि यदि उत्तर प्रदेष षासन, निगम प्रषासन द्वारा समय रहते मॉगों पर सार्थक निर्णय नही लिया जाता है तो संघ घोशित आन्दोलन को और अधिक तीव्र गति प्रदान करेगा।

 

Leave a comment